चेतन आनंद ने तेजस्वी के खास MP के खिलाफ खोला खुला मोर्चा: लालू ने आनंद मोहन को दरवाजे से चलता कर दिया था

आनंद मोहन के विधायक बेटे ने तेजस्वी के खास MP के खिलाफ खोला खुला मोर्चा: लालू ने आनंद मोहन को दरवाजे से चलता कर दिया था


PATNA: बिहार की राजनीति में उठापटक लगातार तेज होती जा रही है. जेडीयू में पहले से ही घमासान मचा है, अब राजद में बवाल मच गया है. राजद के विधायक और आनंद मोहन के बेटे चेतन आनंद ने लालू-तेजस्वी के खास सांसद मनोज झा के खिलाफ खुला मोर्चा खोल दिया है. चेतन आनंद ने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिख कर मनोज झा को जमकर कोसा है. वैसे अंदर की कहानी ये है कि लालू यादव ने कुछ दिनों पहले आनंद मोहन को अपने गेट से चलता कर दिया था. इसके बाद आनंद मोहन परिवार तेवर दिखा रहा है.


चेतन आनंद ने मनोज झा को ललकारा


आनंद मोहन के विधायक बेटे चेतन आनंद ने कहा है कि राजद के सांसद मनोज झा समाजवाद के नाम पर दोगलापन कर रहे हैं. चेतन आनंद ने फेसबुक पर लिखा है “हम ठाकुर साहब हैं. हम सबको साथ लेकर चलते हैं. इतिहास में सबसे अधिक बलिदान हमारा है. समाजवाद में किसी एक जाति को टार्गेट करना समाजवाद के नाम पर दोगलापन के अलावा कुछ नहीं. जब हम दूसरों के बारे में गलत नहीं सुन सकते तो अपने (ठाकुरों) पर अभद्र टिप्पणी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे.” फेसबुक पर ये लिखने के साथ ही चेतन आनंद ने लिखा है-“मनोज झा के विचारों का पुरजोर विरोध.”


5 दिन बाद क्यों निकाली भड़ास


दरअसल चेतन आनंद मनोज झा के उस भाषण को मुद्दा बना रहे हैं, जो उन्होंने महिला आरक्षण बिल पर राज्यसभा में चर्चा के दौरान दिया था. ये पांच दिन पुराना मामला है, चेतन आनंद ने 5 दिनों के बाद इसे उठाया है. राजद के सूत्र इसके पीछे की कहानी कुछ औऱ ही बता रहे हैं. उनका कहना है कि अंदर की बात अलग है.


लालू ने आनंद मोहन को दरवाजे से चलता किया था


राजद सूत्र बता रहे हैं कि करीब कुछ दिनों पहले लालू यादव ने आनंद मोहन अपने 10 सर्कुलर आवास से चलता कर दिया था. राजद के एक नेता ने बताया कि आनंद मोहन पिछले दिनों लालू यादव से मुलाकात करने लालू-राबड़ी के 10 सर्कुलर आवास पहुंचे थे. उनकी गाड़ी 10, सर्कुलर रोड के गेट पर रूकी. अदंर मैसेज भेजा गया कि आनंद मोहन मिलने आये हैं लेकिन लालू–राबड़ी आवास के बाहर 10 मिनट तक इंतजार करने के बावजूद आनंद मोहन केलिए गेट नहीं खुला. दरअसल आनंद मोहन अपनी गाड़ी में बैठ कर 10, सर्कुलर स्थित लालू-राबड़ी आवास के अंदर जाना चाहते थे. लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने गेट ही नहीं खोला. उन्हें अंदर से गेट खोलने का कोई निर्देश नहीं मिला.


राजद नेता ने मीडिया को बताया कि करीब 10 मिनट तक आनंद मोहन अपनी गाड़ी में बैठे इंतजार करते रहे. उसके बाद अंदर से ये मैसेज आया कि साहब (लालू यादव) अभी मुलाकात नहीं करेंगे. फर्स्ट बिहार को मिली जानकारी मुताबिक आनंद मोहन की भारी बेइज्जती के बाद उनके परिवार में बौखलाहट है. इसके बाद ही बेटे चेतन आनंद के जरिये मनोज झा को निशाने पर लिया गया है. बता दें कि मनोज झा लालू-तेजस्वी के सबसे खास लोगों में शामिल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

a random fun fact about the Roman Empire महाबैठक से अरविंद केजरीवाल को मिलेगा डबल एडवांटेज जम्मू-कश्मीर के सांबा में प्रवासी मजदूरों को ले जा रही बस पलटी Cristiano Ronaldo storms off as Al Nassr players involved in full-time confrontation The top 10 crypto marketing agencies for 2023